https://pixabay.com/
https://pixabay.com/

**गांव की बेटी योजना क्या है? मध्य प्रदेश सरकार की पूर्ण जानकारी**

गांव की बेटी योजना मध्य प्रदेश सरकार की एक प्रमुख योजना है, जिसका उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों की बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने की ओर प्रोत्साहित करना और उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है। इस योजना के तहत, राज्य सरकार ग्रामीण क्षेत्रों की बालिकाओं को उच्च शिक्षा के लिए स्कॉलरशिप प्रदान करती है।

**गांव की बेटी योजना के लिए पात्रता**

गांव की बेटी योजना के तहत पात्रता के लिए निम्नलिखित शर्तों को पूरा करना आवश्यक है:

* बालिका का मध्य प्रदेश राज्य के किसी ग्रामीण क्षेत्र में जन्म हुआ हो।

* बालिका के माता-पिता दोनों मध्य प्रदेश के स्थायी निवासी हों।

* बालिका के परिवार की वार्षिक आय 4 लाख रुपये से अधिक न हो।

* बालिका ने कक्षा 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की हो और वह उच्च शिक्षा के लिए किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज या विश्वविद्यालय में प्रवेश लिया हो।

**गांव की बेटी योजना के लाभ**

गांव की बेटी योजना के तहत पात्र बालिकाओं को निम्नलिखित लाभ प्रदान किए जाते हैं:

* प्रतिमाह 500 रुपये की स्कॉलरशिप, जो 10 महीने तक प्रदान की जाती है।

* उच्च शिक्षा के दौरान पुस्तकों, शुल्क और अन्य खर्चों को पूरा करने के लिए प्रतिवर्ष 5,000 रुपये की राशि।

* यदि बालिका किसी व्यावसायिक या तकनीकी शिक्षा को प्राप्त कर रही है, तो उसे प्रतिमाह 750 रुपये की स्कॉलरशिप प्रदान की जाती है।

**गांव की बेटी योजना के लिए आवेदन कैसे करें?**

गांव की बेटी योजना के लिए आवेदन करने के लिए, बालिका को मध्य प्रदेश सरकार के छात्रवृत्ति पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेजों में निम्नलिखित शामिल हैं:

* बालिका का आधार कार्ड।

* बालिका का निवास प्रमाण पत्र।

* बालिका की कक्षा 12वीं की मार्कशीट।

* बालिका के परिवार की आय प्रमाण पत्र।

* बालिका के कॉलेज या विश्वविद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र।

**गांव की बेटी योजना का महत्व**

गांव की बेटी योजना एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है, जो ग्रामीण क्षेत्रों की बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद करती है। इस योजना के तहत प्रदान की जाने वाली स्कॉलरशिप से बालिकाओं के परिवारों को उनकी शिक्षा पर होने वाले खर्च को पूरा करने में मदद मिलती है। इसके अतिरिक्त, यह योजना ग्रामीण क्षेत्रों की बालिकाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने में भी मदद करती है।

**गांव की बेटी योजना की उपलब्धियां**

गांव की बेटी योजना मध्य प्रदेश सरकार की सबसे सफल योजनाओं में से एक है। इस योजना के तहत अब तक लाखों बालिकाओं को लाभान्वित किया जा चुका है। इस योजना के परिणामस्वरूप, राज्य में ग्रामीण क्षेत्रों की बालिकाओं के उच्च शिक्षा प्राप्त करने की दर में वृद्धि हुई है और उनकी सामाजिक और आर्थिक स्थिति में भी सुधार हुआ है।

**निष्कर्ष**

गांव की बेटी योजना मध्य प्रदेश सरकार की एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है, जो ग्रामीण क्षेत्रों की बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद करती है और उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त बनाती है। इस योजना के तहत प्रदान की जाने वाली स्कॉलरशिप से बालिकाओं के परिवारों को उनकी शिक्षा पर होने वाले खर्च को पूरा करने में मदद मिलती है और उन्हें एक बेहतर भविष्य बनाने में मदद मिलती है।

**What is Gaon Ki Beti Yojana? Complete information about Madhya Pradesh government**

Gaon Ki Beti Yojana is a major scheme of the Government of Madhya Pradesh, whose objective is to encourage girls in rural areas to pursue higher education and empower them economically. Under this scheme, the state government provides scholarships for higher education to girls from rural areas.

**Eligibility for village daughter scheme**

The following conditions are required to be fulfilled for eligibility under the Gaon Ki Beti Scheme:

* The girl must have been born in a rural area of Madhya Pradesh state.

* Both parents of the girl child should be permanent residents of Madhya Pradesh.

* The annual income of the girl’s family should not exceed Rs 4 lakh.

* The girl must have passed class 12th examination and has taken admission in a recognized college or university for higher education.

**Benefits of Gaon Ki Beti Yojana**

The following benefits are provided to the eligible girl children under the Gaon Ki Beti Scheme:

* Scholarship of Rs 500 per month, which is provided for 10 months.

*A sum of Rs 5,000 per annum to meet books, fees and other expenses during higher education.

* If the girl is pursuing any professional or technical education, she is provided a scholarship of Rs 750 per month.

**How to apply for Gaon Ki Beti Yojana?**

To apply for Gaon Ki Beti Yojana, the girl child has to apply online on the scholarship portal of Madhya Pradesh Government. Documents required for application include the following:

* Aadhar card of the girl child.

* Residence certificate of the girl child.

* Girl’s class 12th marksheet.

* Income certificate of the girl’s family.

* Certificate of admission of the girl child in college or university.

**Importance of village daughter scheme**

Gaon Ki Beti Yojana is a very important scheme, which helps the girl children of rural areas to get higher education. The scholarships provided under this scheme help the families of girl children to meet the expenses on their education. Additionally, this scheme also helps in economically empowering the girl child in rural areas.

**Achievements of Gaon Ki Beti Yojana**

Gaon Ki Beti Yojana is one of the most successful schemes of Madhya Pradesh Government. Till now lakhs of girls have been benefited under this scheme. As a result of this scheme, the attainment rate of girls from rural areas in the state has increased and their social and economic status has also improved.

**conclusion**

Gaon Ki Beti Yojana is a very important scheme of the Government of Madhya Pradesh, which helps the girl children of rural areas to get higher education and empowers them economically. The scholarships provided under this scheme help the families of girl children to meet the expenses on their education and help them build a better future.

Previous articleGanesh Chaturthi is one of the major festivals of Hindus.
Next articleWhat is Old Age Pension Scheme? Complete information

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here